बेकाबू ट्रक ने ली दो की जान

प्रयागराज : सिविल थाना क्षेत्र स्थित वाल्मीकि चौराहे पर गुरुवार रात बेकाबू ट्रक ने बसपा कार्यकर्ता सुनील भारतीय (40) व छात्रा सबा खान (22) को रौंद दिया। इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने ट्रक व खलासी को पकड़ लिया है, जबकि चालक फरार हो गया। सबा अपने जन्मदिन पर जीजा के साथ बिरयानी खाने सिविल लाइंस आई थी। कैंट थाना क्षेत्र के राजापुर मुहल्ले में रहने वाला सुनील भारतीया पुत्र स्व. राधे भारतीया अंडे की दुकान लगाता था। वह बसपा कार्यकर्ता था और पार्षद का चुनाव भी लड़ चुका था। गुरुवार रात वह अपने ससुराल चौफटका गया था। वहां से लौटकर वाल्मीकि चौराहे पर एक दुकान के पास खड़ा होकर अंडा खा रहा था। वहीं, शाहगंज के नखास कोहना निवासी कारपेंटर चुन्ने खां की बेटी सबा उर्फ गुडि़या अपने जीजा अरशद के साथ जन्मदिन पर बिरयानी खाने के लिए सिविल लाइंस आई थी। रात करीब 10 बजे जीजा के साथ वह बाइक से घर लौट रही थी। तभी नवाब युसुफ रोड पर वाल्मीकि चौराहे के पास पीछे से तेज रफ्तार में आए ट्रक ने बाइक में टक्कर मार दी।जीजा और साली सड़क पर गिर पड़े तो ट्रक सबा का रौंदते हुए आगे निकल गया। कहा जा रहा है इसी दौरान चालक कूदकर भाग निकल तो ट्रक अनियंत्रित होकर सुनील को टक्कर मारते हुए दीवार से टकरा गया। हादसे में सबा व सुनील की मौत हो गई, जबकि अरशद मामूली रूप से जख्मी हुआ। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची ने ट्रक को कब्जे में लेकर खलासी को पकड़ लिया। मातम में बदल गई जन्मदिन की खुशियां :सबा पांच बहनों में तीसरे नंबर की थी। वह मजीदिया इस्लामिया डिग्री कॉलेज से बीए तृतीय वर्ष की छात्रा थी। थाने पर मौजूद गमजदा भाई शीबू, सैफ और चांद ने बताया कि सबा अपने जीजा के साथ जन्मदिन मनाने और बिरयानी खाने के लिए सिविल लाइंस गई थी। सबा की मौत से जन्मदिन की खुशियां मातम में बदल गई। मां मुमताज, पिता चुन्ने, भाई व बहनें बिलखती रहीं। बेसुध हो गई पत्‍‌नी, बिलखते रहे परिजन :सुनील भारतीय की मौत का तो पहले घरवालों को यकीन न हुआ, लेकिन जब हुआ तो पत्‍‌नी संजू बेसुध होकर गिर पड़ी। बेटियां प्रियांशी और अंशिका भी बिलखती रहीं। सुनील तीन भाईयों में सबसे बड़ा था। छोटे भाई सुजीत और विकास भी बदहवास थे। हादसे के बाद सिविल लाइंस थाने पर दर्जनों कार्यकर्ता जमा रहे और चालक को गिरफ्तार करने की मांग करते रहे।[  रिपोर्ट संजय गुप्ता प्रयागराज]