गाँव की महिलाओं को अब धुएं में नहीं बनाना पड़ेगी रोटी-ललिता यादव

छतरपुर @ राज्यमंत्री ललिता यादव ने कहा है कि अब उज्जवला योजना का विस्तार कर गाँव-गाँव में आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को गैस कनेक्शन बांटे जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा है कि गाँव की गरीब महिलाएं धुएं में लकडिय़ों पर खाना बनाने के बजाए गैस चूल्हे पर रोटी बनाएं और स्वस्थ रहें। वे आज दोपहर छतरपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बूढ़ा और रामगढ़ की महिलाओं को गैस कनेक्शन वितरित कर रहीं थीं।

प्रदेश की पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक कल्याण तथा महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री ललिता यादव ने इस मौके पर 64 महिलाओं को गैस कनेक्शन के साथ सिलेंडर और चूल्हे वितरित किए। उन्होंने इस अवसर पर आयोजित समारोह में कहा कि गैस चूल्हे मिल जाने से अब गाँव की महिलाओं को लकड़ी और कंडे के धुएं से छुटकारा मिल जाएगा। उज्जवला दिवस पर आयोजित समारोह में खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी बीके सिंह, खाद्य निरीक्षक रतन कुम्हरे, इंडेन के सेल्स ऑफीसर सिद्धार्थ सोनी, स्वरूप गैस एजेंसी के मनोज जैन, सहकारी निरीक्षक बीके रूसिया, नायब तहसीलदार अनिल खरे, रामगढ़ सरपंच सुन्दरलाल पटेल, सेवा सहकारी समिति बगौता के प्रबंधक करन सिंह परिहार सहित बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थीं।

राज्यमंत्री ललिता यादव ने बताया कि ग्रामीण महिलाओं की सुविधा के लिए ग्राम स्वराज अभियान के तहत् पूरे देश में 15 हजार गाँवों में एक साथ कार्यक्रम आयोजित कर जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में गैस कनेक्शन वितरित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा की सोच है कि शासन की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ अंतिम छोर पर खड़े लोगों तक पहुंचे। इसीलिए शहरों की बजाए गाँवों में कार्यक्रम आयोजित किए गए। प्रारंभ में पूजन-अर्चन के साथ कार्यक्रम शुरू होने पर अतिथियों का आत्मीय स्वागत किया गया।