भारत-रवांडा के बीच हुए तीन महत्वपूर्ण समझौते

भारत और रवांडा ने उड्डयन क्षेत्र, नई खोज़ और वीजा ज़रूरत से जुड़े तीन सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर किए हैं। नई खोज के क्षेत्र में दोनों देश किगाली में एक उद्यमिता विकास केंद्र की स्थापना करेंगे जबकि उड्डयन क्षेत्र में रवांडा एयर आने वाले महीनों में भारत के लिए सेवाएं शुरू करेगी और दोनों देश राजनयिक और आधिकारिक पासपोर्ट धारकों की वीजा जरूरत पर पारस्परिक तरीके से छूट देंगे।

उपराष्ट्रपति ने विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं नवोन्मेष के क्षेत्र में संबंधों को बढ़ावा देने के लिए भारत-रवांडा नवोन्मेष विकास कार्यक्रम शुरू किया और कहा कि रवांडा अफ्रीका के दूसरे हिस्सों में अपनी मौजूदगी बढ़ाने के लिए भारतीय साझेदारों को एक शानदार मंच उपलब्ध कराता है।

उपराष्ट्रपति ने किगाली में आयोजित एक व्यापार मंच में दोनों देशों के उद्योगपतियों की एक सभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। उपराष्ट्रपति ने कहा, रवांडा के साझेदारों के साथ निर्मित संयुक्त उद्यम कई सतत सामाजिक उपक्रमों का विकास कर सकते हैं जिससे रवांडा में आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा।