चुनाव की घोषणा के बाद टीएमसी नेताओं का दूसरी पार्टी में पलायन

इस ख़बर को शेयर करें:

मुख्य विपक्षी कांग्रेस की भी चुनाव को लेकर कसी कमर

आम चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही राजनीतिक पार्टियां चुनावी तैयारियों में जुट गई हैं। बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने तैयारियो के लिहाज से अलग अलग समितियों का गठन किया है जिसमे संकल्प पत्र समिति, प्रचार समिति आदि शामिल है।

भाजपा की संकल्प पत्र समिति की बैठक गृह मंत्री राजनाथ सिंह के निवास पर हुई जिसमें कृषि मंत्री राधामोहन सिंह और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी हिस्सा लिया। संकल्प पत्र समिति में कई मंत्रियों को भी जिम्मेदारी दी गई है, जो देश भर में सभी वर्ग के लोगों से बातचीत करके उनकी राय ले रहे हैं।

भाजपा उनकी राय को अपने संकल्प पत्र में जगह देगी। इस बीच चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और टीएमसी के नेता अपनी पार्टी छोड़कर दूसरी पार्टी में पलायन कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल में कांग्रेस नेता गौतम घोष के साथ कांग्रेस के राज्य सचिव राकेश कुमार सिंह और टीएमसी के देवजानी दास गुप्ता ने भाजपा का दामन थाम लिया।

टीएमसी के बड़े नेता व ममता सरकार में मंत्री रहे मंजुल कृष्ण ठाकुर के बीजेपी में शामिल होने के बाद पार्टी की कई और नामों के भी बीजेपी की तरफ जाने की चर्चाएं तेज हो गई हैं। ठाकुर के बाद जिस टीएमसी नेता के वाला बदलने के चर्चा तेज हैं, उनमेें पूर्व रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी का नाम सामने आ रहा है। बताया जाता है कि दीदी से नाराज व पार्टी में अपनी अनदेखी से असंतुष्ट चल रहे त्रिवेदी जल्द ही बीजेपी में शामिल हो सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि त्रिवेदी के टीएमसी छोड़ने की खबरें उस समय से तेज हो गईं, जब अपने गुजरात दौरे में त्रिवेदी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की। दरअसल, त्रिवेदी मूल रूप से गुजरात के रहने वाले हैं और पिछले दिनों वह गुजरात गए थे। जहां लोकल मीडिया में उन्होंने मोदी के विजन की तारीफ की। बताया जाता है कि त्रिवेदी बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के लगातार संपर्क में हैं।