आस्था संस्कृति
घर में झाड़ू को उल्टा रखना क्यों होता है अशुभ
अक्सर बढ़े-बुजुर्ग घर में मौजूद चीजों को लेकर ज्ञान की बातें बताते रहते हैं। जिनका अच्छा और बुरा दोनों महत्व होता है। झाडू भी…
गुणसूत्र : सात जन्मों के साथ का रहस्य
एक वंश एक आरेख है जो एक जीव और उसके पूर्वजों के बीच जैविक संबंधों को दर्शाता है। यह फ्रांसीसी चितकबरी डे ग्रू क्रेन…
आज भी कृष्ण के निशान वहां है मौजूद जहां गोपियों की रासलीला से लेकर कालिया नाग का किया था मर्दन
आज कृष्ण जन्माष्टमी है। कृष्ण को लीलाधर भी कहा जाता है। उन्होंने जन्म से लेकर गोलोकवासी होने तक कई लीलाएं कीं, जिनके निशान आज…
वैष्णो देवी यात्रा 16 अगस्त से शुरू होगी, जाने से पहले जान लें ये नियम
माता वैष्णो देवी यात्रा 16 अगस्त से शुरू होगी. सरकार ने इसकी घोषणा की है. इसके साथ ही सरकार ने दिशा-निर्देश भी जारी किए…
रामलला के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट में वेद पुराण के हवाले से गवाही देने वाले रामभद्राचार्य को सुनकर जज ने कहा – ‘आज मैंने भारतीय प्रज्ञा का चमत्कार देखा’
दृश्य था उच्चतम न्यायलय का … श्रीराम जन्मभूमि के पक्ष में वादी के रूप में उपस्थित थे धर्मचक्रवर्ती, तुलसीपीठ के संस्थापक, पद्मविभूषण, जगद्गुरु रामभद्राचार्य…
राम मंदिर भूमि पूजन के समय पूरे अमेरिका में आयोजित होगा यह खास कार्यक्रम
वाशिंगटन: राम मंदिर भूमि पूजन (Ram Mandir Bhoomi Poojan) की तारीख अब नजदीक ही आ गई है और भारत सहित विश्वभर में फैल भारतीयों…
नागपंचमी विशेष:-वर्ष में एक बार खुलता है भगवान नागचन्‍द्रेश्‍वर के पट
शनिवार 25 जुलाई को श्री महाकालेश्‍वर मंदिर में नागपंचमी पर्व मनाया जावेगा। उल्‍लेखनीय है कि पूरे भारत वर्ष में एक मात्र मंदिर नागचंद्रेश्वर भगवान…
संत शिरोमणि पंडित देवप्रभाकर शास्त्री दद्दाजी का देवलोक गमन, देशभर में फैले लाखों शिष्यों में शोक की लहर
कटनी। परम पूज्य गुरुदेव पंडित देव प्रभाकर शास्त्री जिन्हें प्यार से सभी दद्दा जी के नाम से पुकारते थे आज उनका शिवलोक गमन हो…
शिक्षाप्रद कथा : हनुमान ने कैसे किया भीम का अभिमान भंग
एक बार अर्जुन भगवान शंकर की तपस्या करने हिमालय के जंगलों में चले गए और शिव की घोर तपस्या में मग्न हो गए| उनकी…
सुनील लहरी रामायण मेकिंग के समय शेयर किए अपने कुछ अनुभव
सुनील लहरी (लक्ष्मण) रामायण मेकिंग के समय शेयर किए अपने अनकही बातें यह पहलू हो सकता है आप सबके लिए बहुत खास हो क्योंकि…
सहस्रलिंग तीर्थ : कर्नाटक के इस नदी में एक साथ बने है हज़ारों शिवलिंग
उथले पानी के बीच शिवलिंग और मूर्तियां दिख रही हैं. जिनको देखने से लगता है कि ये प्राचीन काल की कला है. लेकिन शिव…
रामानंद चोपड़ा कैसे बन गये रामानंद सागर इसकी असल वजह क्या थी ?
बड़े-बुजुर्ग कहते हैं कि सबसे पहले भगवान शिवजी ने पार्वती माता को रामकथा सुनाई थी। फिर वाल्मिकी जी ने रामायण लिखी। लेकिन कलयुग में…
जानिए देश में “लॉकडाउन” से क्या सम्बंध है “रामानंद सागर की रामायण” का ?
कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। जिसकी वजह से…