नागपंचमी पर यूपी में है गुड़िया पीटने की परंपरा

देश के अलग-अलग हिस्सों में नागपंचमी के दिन नागों की पूजा की जाती है. आमतौर पर इस दिन नागों को दूध लावा का भोग लगाया जाता है. घरों में नाग की मूर्ति या फिर उनकी चित्र बनाकर उनका टीका किया जाता है. लेकिन यूपी में नागपंचमी के दिन एक दिलचस्प और अजीब तरीका आजमाया जाता है.

यूपी के कुछ जिलों में नागपंचमी के दिन गुड़िया को पीटे जाने की प्रथा सदियों से चली आ रही है. इस दिन घर की महिलायें पुराने कपड़ों से गुड़िया बनाती है और नागपंचमी वाले दिन उन्हें चौराहे पर रख आती हैं. इसके बाद मुहल्ले अथवा गांव के लड़के लाठी डंडों से उस कपड़े की गुडि़या को पीटते हैं.

इस प्रथा के पीछे क्या कारण है. लोग ऐसा क्यों करते हैं. इस बारे में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिलती. लोगों का ये मानना है कि भूत-प्रेत और बुरी आत्माओं से गांव की रक्षा के लिये लोग ऐसा करते हैं. हालांकि, खबर जंक्शन इस बात की पुष्टि नहीं करता और ना ही इसे बढ़ावा देता है.