नशीले इंजैक्शन के दो सौदागरों को पुलिस ने धर दबोचा, पप्पू सुअर नाम के व्यक्ति से खरीदते थे इंजैक्शन

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:

50 नग नशीले इंजैक्शन, 30 सिरिंज तथा नशीले इंजैक्शन बिक्री के 400 रूपये जप्त

जबलपुर। थाना हनुमानताल में विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि शमशाद अंसारी एवं इरशाद अहमद दोनों नशीले इंजेक्शन अवैध रूप से विगत तीन माह से बेच रहे हैं एवं आज सुवह भी बेचने के लिये बूढ़ी खेरमाई की कुलिया में घूमते फिरते बेच रहे हैं सूचना पर मुखबिर के बताये स्थान चारखम्बा बूढ़ी खेरमाई मे घेराबंदी कर दबिश दी जहाॅ मुखबिर के बताये हुलिये के 2 युवक काली रंग की पालीथीन लिय खडे दिखे जो पुलिस को देखकर भागने लगेे।

जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा गया नाम पता पूछने पर दोनों ने अपने नाम शमशाद अंसारी उम्र 24 वर्ष एवं इरशाद अहमद उम्र 21 वर्ष दोनों निवासी बूढ़ी खेरमाई मंदिर के पास चारखम्बा हनुमानताल के बताये जिन्हें मुखबिर की सूचना से अवगत कराते हुये तलाशी लेने पर शमशाद अंसारी एक काले रंग की पालीथिन में ब्यूपे्रनोरफिन इंजेक्शन 35 नग कीमती 980 रूपये एवं 10 नग डिस्पो वेन कम्पनी की सिरेन्ज कीमती 75 रूपये के तथा इरशाद अहमद अंसारी एक काले रंग की पालीथिन में फैनारिमाईन मेलेट इंजेक्शन आईपी एविल की कुल 15 शीशियां कीमती 280 रूपये एवं 20 डिस्पो वेन कम्पनी की सिरेन्ज एवं नगदी 400 रूपये रखे मिले, जिसे जप्त करते हुये पूछताछ करने पर पप्पू सुअर नाम के व्यक्ति से खरीदना बताते हुये 400 रूपये इंजेक्श बिक्री से प्राप्त होना बताया।

इरशाद अहमद अंसारी एवं शमशाद अंसारी के द्वारा यह जानते हुये की इन इंजेक्शनों के उपयोग करने से नशे के साथ मृत्यु भी हो सकती हैं अवैध रूप से बिना डाक्टर की सलाह के प्रतिबंधित इंजेक्शन रखकर विक्रय करना पाया जाने पर धारा 328, 34 भादवि एवं 5/13 औषधी नियंत्रण अधिनियम का पंजीबद्ध कर इरशाद अहमद अंसारी एवं शमशाद अंसारी को अभिरक्षा में लेते हुये पप्पू सुअर की तलाश जारी है।

उल्लेखनीय भूमिका– नशीले इंजैक्शन के 2 सौदागरों को पकड़ने में थाना प्रभारी हनुमानताल श्री उमेश गोल्हानी उप निरीक्षक दिनेश गौतम, आरक्षक रामजी, महेन्द्र, चंद्रभान, समरेन्द्र की सराहनीय भूमिका रही।