संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुई दो इंजीनियरिंग छात्राएं

जबलपुर। श्रीराम इंजीनियरिंग कॉलेज में पढऩे वाली दो इंजीनियरिंग छात्राएं संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गईं। शुक्रवार तक जब उनका पता नहीं चला, तो दोनों के परिजन शहर पहुंचे। माढ़ोताल थाने में दोनों की गुमशुदगी दर्ज कराई गई। शनिवार को परिजनों ने एएसपी सूरज वर्मा से मुलाकात की। पुलिस छात्राओं के मोबाइल फोन के कॉल रिकॉर्ड और टावर लोकेशन के आधार पर उनका पता लगाने का प्रयास कर रही है।

पढ़ें :- श्रीराम इंजीनियरिंग कॉलेज की गायब छात्राओं की मिली लाश

माढ़ोताल थाने के एएसआई अरविंद सिंह ने बताया कि मैहर निवासी रामायण नामदेव की बेटी नेहा नामदेव (20) व कमल सिंह सेंगर की बेटी काजल सिंह सेंगर (20) श्रीराम इंजीनियरिंग कॉलेज में इलेक्ट्रॉनिक्स कम्युनिकेशन विभाग में तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रहीं हैं। दोनों आईएसबीटी के पास स्थित शिवधाम नगर में किराए के मकान में रहती हैं। दो फरवरी को दोनों की परीक्षाएं समाप्त हुई। काजल ने पिता को फोन लगाकर कहा कि वह शाम तक घर पहुंच जाएगी। वह दूसरे दिन शुक्रवार तक घर नहीं पहुंची।

परिजन ने फोन लगाया, तो उसका फोन बंद मिला। इस दौरान मयंक नाम के युवक ने काजल के परिजन को फोन कर बताया कि काजल के कमरे की चाबी उसके पास है। दोनों के परिजन सीधे जबलपुर और फिर काजल के रूम पर पहुंचे। जहां मयंक को फोन कर बुलाया। कमरे में सारा सामान सामान्य रूप से रखा था। जब काजल और नेहा का पता नहीं चला, तो परिजन माढ़ोताल थाने पहुंचे। जहां दोनों की गुमशुदगी दर्ज कराई गई। परिजनों ने कुछ युवकों पर संदेह जाहिर किया है।