जहाँ आज दो नये कन्टेनमेन्ट जोन बने वहीँ कोरोना संक्रमण मुक्त होने पर 7 को मिली छुट्टी

जबलपुर। एक से अधिक कोरोना के पॉजिटिव केस मिलने पर शहर में आज गुरुवार को भी दो नये क्षेत्रों को कन्टेनमेन्ट जोन घोषित किया गया है । नये बनाये गये कन्टेनमेन्ट जोन में लक्ष्मी परिसर कटंगा और सिंधी केम्प-3 शामिल हैं । लक्ष्मी परिसर कटंगा कन्टेनमेन्ट जोन में लक्ष्मी परिसर के आसपास के प्रभावित क्षेत्र को तथा सिंधी केम्प -3 कन्टेनमेन्ट जोन में प्रेमसागर पुलिस चौकी के आसपास के प्रभावित क्षेत्र को शामिल किया गया है । जिला दण्डाधिकारी एवं कलेक्टर भरत यादव ने नये कन्टेनमेन्ट जोन बनाने का आदेश जारी कर दिया है ।

कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त होने पर आज गुरुवार 9 जुलाई को सात व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है । इनमें से सुखसागर कोविड केयर सेंटर से अग्रवाल कम्पाउंड पोलीपाथर ग्वारीघाट निवासी 28 वर्षीय युवक को और जिला चिकित्सालय विक्टोरिया के कोविड वार्ड से लालस्कूल गढ़ा फाटक निवासी 35 वर्ष की महिला और उसके 18 वर्षीय पुत्र को कोरोना से स्वस्थ होने पर छुट्टी दी गई है । वहीं मिलेट्री हॉस्पिटल से सेना के चार जवानों को कोरोना के संक्रमण से मुक्त होने पर डिस्चार्ज किया गया है । कल बुधवार की रात 8 बजे से आज गुरुवार की रात 8 बजे तक बीते 24 घण्टे में मिले कोरोना संक्रमण के 26 प्रकरणों को मिलाकर जबलपुर में कोरोना संक्रिमतों की संख्या 496 हो गई है । इनमें से अभी तक 382 स्वस्थ हो चुके हैं और 14 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है । जबलपुर में कोरोना के एक्टिव केस अब 100 हो गये हैं ।

 

किल कोरोना अभियान : अब तक 16.15 लाख लोगों के स्वास्थ्य का सर्वे

नवमें दिन 42 हजार घरों के 2 लाख व्यक्तियों के स्वास्थ्य का हुआ सर्वे

कोरोना को समाप्त करने के उद्देश्य से राज्य शासन के निर्देशानुसार एक जुलाई से प्रारंभ किये गये किल कोरोना अभियान के तहत नवमें दिन आज गुरूवार को जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में 42 हजार 726 घरों के 2 लाख 05 हजार 791 व्यक्तियों के स्वास्थ्य का सर्वे किया गया। सर्वे का काम ढाई हजार पायलट टीमों और 371 मुख्य टीमों द्वारा किया जा रहा है। इसमें पांच हजार से अधिक आंगनवाड़ी, आशा, स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं ए.एन.एम. को लगाया गया है। 

किल कोरोना अभियान के नवमें दिन सर्वे दलों द्वारा घर-घर किये गये सर्वे में कोरोना से मिलते जुलते लक्षणों वाले 225 मरीजों को चिंहित किया गया है। जबकि 134 व्यक्ति अन्य रोगों से पीडि़त पाये गये। इसके अलावा 561 गर्भवती महिलाओं एवं टीकाकरण से छूट गये 46 बच्चों को भी चिंहित किया गया।

इस तरह एक जुलाई से प्रारंभ किये गये पन्द्रह दिनों के किल कोराना अभियान में अभी तक जिले में 3  लाख 25 हजार 691 घरों के 16 लाख 15 हजार 870 व्यक्तियों के स्वास्थ्य का सर्वे किया जा चुका है। इस दौरान कोरोना के लक्षण वाले एक हजार 687 व्यक्तियों को चिन्हित किया गया है। जबकि अन्य रोगों से पीडि़त पाये गये व्यक्तियों की संख्या 774 है। अभियान के तहत अभी तक 5 हजार 210 गर्भवती महिलाओं एवं टीकाकरण से छूट गये 451 बच्चों की भी पहचान की गई है।