यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 16 मार्च से 21 अप्रैल तक होंगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बुधवार को बोर्ड परीक्षा का कार्यक्रम घोषित कर दिया। यूपी बोर्ड की दसवीं और बारहवीं कक्षा की परीक्षाएं 16 मार्च से शुरु होंगी। यह परीक्षाएं कुल 11500 परीक्षा केंद्र पर आयोजित की जाएंगी। हाईस्कूल की परीक्षा 16 मार्च से शुरु होगी और 1 अप्रैल को खत्म होगी। जबकि इंटर की परीक्षा 16 मार्च को शुरु होकर 21 अप्रैल तक खत्म होंगी। निर्वाचन आयोग ने 16 मार्च से परीक्षा शुरू कराने की अनुमति दी है।

माध्यमिक शिक्षा निदेशक एवं यूपी बोर्ड के सभापति अमरनाथ वर्मा के मुताबिक, यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा में 60 लाख से अधिक छात्र-छात्राएं शामिल होंगे। 10वीं में 34,04,471 और 12वीं में 26,24,681 यानी कुल 60,29,152 लाख रेगुलर और प्राइवेट परीक्षार्थियों ने आॅनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया है। वर्मा ने बताया कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षायें दो पालियो में होंगी। पहली पाली सुबह 7ः30 बजे से 10ः45 तक और दूसरी पाली दोपहर 2 बजे से शाम 5:15 तक चलेगी।

गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने यूपी बोर्ड की ओर से हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं के लिए जारी तारीखों पर रोक लगा दी थी। यूपी बोर्ड से इससे पहले आठ दिसम्बर को परीक्षा की तारीखों का ऐलान किया था। यूपी बोर्ड ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर विधान सभा चुनाव के बाद परीक्षा कराने और तिथि घोषित करने की अनुमति मांगी थी।

विधान सभा चुनाव की प्रक्रिया 15 मार्च को पूरी हो रही है। इसलिए आयोग ने 16 मार्च से परीक्षा कराने की अनुमति दी है। 31 परीक्षा केन्द्र संवेदनशील इस बार की बोर्ड परीक्षाओं में 31 परीक्षा केंद्रों को संवेदनशील बताया गया है जिसमें अलीगढ़, आगरा, मथुरा, हाथरस, एटा, मैनपुरी, फिरोजाबाद, संभल के सेंटर हैं।