उत्तर प्रदेश: मंत्रियों को बांटे गए विभाग

इस ख़बर को शेयर करें:

लखनऊ @ आज शपथ लेने वाले मंत्रियों के विभागों का बंटवारा कर दिया गया। गृह मंत्रालय मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी पास रहेगा। उत्तर प्रदेश में सरकार बदलने के साथ ही बड़े बदलावों की भी शुरुआत हो गई है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक तरफ अवैध कत्लखानों को बंद करने की मुहिम छेड़ रखी है तो दूसरी तरफ आज पुलिस ने ऐसी कई जगहों पर दबीश की जहां महिलाओं के साथ छेडछाड़ की घटनाएं होती रही है।

उत्तर प्रदेश के लिए बुधवार का दिन काफी गहमा-गहमी वाला रहा। मंत्रालयो के बंटवारे से लेकर सरकारी दफ्तरो और शहरो की सड़को पर सफाई अभियान चला। सबसे पहले आपको बताते है कि किस मंत्री को क्या जिम्मेवारी मिली है। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने मुख्यमंत्री आदित्य नाथ योगी के प्रस्ताव दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित सभी 22 मंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा 13 राज्यमंत्रियों को विभाग आवंटित करने पर अपना अनुमोदन प्रदान कर दिया है।

विभागों का विवरण इस प्रकार है:

योगी आदित्‍यनाथ, मुख्‍यमंत्री : गृह व अन्‍य सभी मंत्रालय और विभाग जो किसी अन्‍य के पास नहीं।

केशव प्रसाद मौर्या, उप मुख्‍यमंत्री: लोक निर्माण विभाग, खाद्य प्रसंस्करण

दिनेश शर्मा, उप मुख्‍यमंत्री: माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

सूर्य प्रताप शाही को कृषि, कृषि शिक्षा, कृषि अनुसंधान

सुरेश खन्ना को संसदीय कार्य, नगर विकास, शहरी समग्र विकास

स्वामी प्रसाद मौर्य को श्रम एवं सेवा योजना, नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन

राजेश अग्रवाल को वित्त

रीता बहुगुणा जोशी : महिला कल्याण, परिवार कल्याण

चेतन चैहान: खेल एवं युवा कल्याण

श्रीकांत शर्मा : ऊर्जा

सिद्धार्थ नाथ सिंह: चिकित्सा एवं स्वास्थ्य

राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) में

सुरेश राणा को गन्ना विकास एवं चीनी मिलें

भूपेन्द्र सिंह चौधरी को पंचायती राज

राज्यमंत्रियों में….

गुलाबो देवी को समाज कल्याण, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण

जय प्रकाश निषाद को पशुधन एवं मत्स्य, राज्य सम्पत्ति

मोहसिन रज़ा को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, इलेक्ट्रानिक्स, मुस्लिम वक्फ, हज

इसके अलावा बुद्धवार को यूपी सचिवालय राज्य की बदली राजनैतिक और प्रशासनिक आबोहवा का गवाह बना। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने बुधवार को सरकारी दफ्तरों में पान, गुटखा और तंबाकू खाने पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए हैं।

यूपी सचिवालय पहुंचे सीएम ने कहा कि कोई अधिकारी और कर्मचारी सरकारी भवन में गुटखा, पान मसाला और तंबाकू का सेवन न करे। साथ ही योगी ने सरकारी भवनों में प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने को भी कहा है।

सिर्फ गंदगी फैलानो वालो की ही नहीं बल्कि यूपी में नई सरकार बनते ही मनचलों की भी शामत आ गई है। इसी कवायद में लखनऊ समेत कई शहरो की सड़कों पर छेड़छाड़ करने वालों की धरपकड़ शुरू कर दी गई है। पुलिस की अलग-अलग टीमें उन जगहों पर पहुंची जहां सड़कछाप रोमियो लड़कियों को अक्सर छेड़ते नजर आया करते थे। सरकार के इस कदम का छात्राओ ने जमकर स्वागत किया।