विश्व जूनियर नंबर वन शटलर बने उत्तराखंड के लक्ष्य

देहरादून: वर्ल्ड बैडमिंटन फेडरेशन की ओर से जारी ताजा रैंकिंग में उत्तराखंड के युवा शटलर लक्ष्य सेन को शीर्ष स्थान दिया गया है। उन्होंने पहली बार यह उपलब्धि हासिल की है। उत्तराखंड के युवा शटलर लक्ष्य सेन ने जूनियर विश्व रैंकिंग में पहला पायदान हासिल किया है।

वर्ल्ड बैडमिंटन फेडरेशन की ओर से जारी ताजा रैंकिंग में उन्हें शीर्ष स्थान दिया गया है। उन्होंने पहली बार यह उपलब्धि हासिल की है। लक्ष्य के बड़े भाई चिराग सेन जूनियर रैंकिंग में विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी रह चुके हैं। इनसे पहले उत्तराखंड के ही आदित्य जोशी ने विश्व जूनियर रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल किया था।

अल्मोड़ा के तिलकपुर वार्ड निवासी लक्ष्य सेन को बैडमिंटन का खेल विरासत में मिला है। लक्ष्य के दादा स्वण् सीएल सेन अपने समय के बेहतरीन शटलर थेए वहीं पिता डीके सेन भारतीय खेल प्राधिकरण में बैडमिंटन के प्रशिक्षक हैं और वर्तमान में अल्मोड़ा स्थित साई एक्सटेंशन सेंटर पर तैनात हैं। गुरुवार को जारी वर्ल्ड बैडमिंटन फेडरेशन की ओर से जारी ताजा रैंकिंग में लक्ष्य सेन ने यह उपलब्धि हासिल की है।