ससुराल में सड़क तक नहीं बनवा सके सांसद, रूठी सलहज ने दिया ताना
जबलपुर। मध्यप्रदेश के जिला मंडला के सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते के सामने एक बडी समस्या खडी हो गई है। जनता की शिकायते तो जनप्रतिनिधियों से रहती ही है । लेकिन मंडला सांसद से भी उनकी सलहज कम नाराज नही है। सांसद की सलहज ने भी अपने ननदोई सांसद को दो टूक कह दी । उन्होंने कहा, नंदोईजी ने दुनिया भर में क्या विकास कराया और क्या नहीं, इसकी तो हमे जानकारी नही है, लेकिन वे हमारे यहां की सड़क भी कई साल गुजर जाने के बाद भी नही बनवा पाए।
संसदीय क्षेत्र तिदंनी पंचायत के इस गांव में विकास कार्य न होने से सांसद की अकेली सलहज फूलमती ही नहीं ज्यादातर गांववाले नाराज हैं। उनका कहना है कि गांव के दूसरे छोर पर रहने वाले लोगों को आजादी के बाद से अभी तक पक्की सड़क नसीब नहीं मिल पायी है। जबकि गांव की यह सड़क महज एक किमी ही लंबी है। ग्रामीणों का कहना है सांसद जब जब गांव आए है तब अक्सर ये सड़क का मुद्दा उठता है, लेकिन आश्वासन के सिवाय गांव वालों को अभी तक कुछ नहीं मिला।
छह साल से टूटा पुल
गांव में आमाटोला को बीजाडांडी से जोड़ने वाला पुल करीब छह साल से टूटा पडा हुआ है। जबकि इस पुल के नाम पर ही सांसद कुलस्ते दो चुनाव जीत चुके हैं। पुल न हाेने के कारण बीजाडांडी के लोग आसानी से हाईवे तक नहीं पहुंच पाते हैं। जबकि सबसे ज्यादा असर उन बच्चों पर पड़ रहा है, जो पढ़ने के लिए तिंदनी, मंडला आदि स्थानों को जाते हैं।