मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत शिविर आयोजित

उत्तराखंड, चम्पावत@ वोट न डालना एवं चुनाव बहिष्कार किसी भी समस्या को सुलझाने का हल हल नहीं है। उक्त बात भारत निर्वाचन आयोग से जनपद चम्पावत हेतु आये स्वीप के आॅब्जर्वर अभिषेक दयाल ने पिछले विधान सभा सामान्य निर्वाचन में न्यूनतम मतदान 40.42 प्रतिशत करने वाले मतदान केन्द्र राजकीय प्राथमिक विद्यालय में आयोजि मतदाता जागरूकता अभियान के अन्तर्गत आयोजित शिविर में कही।

उन्होंने कहा कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जनपद भेजने का मुख्य उददेश्य आपके द्वारा मतदान में कम रूचि के कारणों को जानना व समझन तथा उनका उचित निस्तारण करना है। उन्होंने क्षेत्रीय जनता द्वारा मतदान प्रतिशत कम होने के विभिन्न कारणों की जानकारी ली। क्षेत्रीय जनता द्वारा मतदान केन्द्र दूर होने, वृद्धों एवं विकलांगों के मतदान केन्द्र तक पहुॅचने हेतु उचित सुविधा न होंने, क्षेत्र का पिछड़ा होने आदि समस्याएॅ आॅब्जर्वर के सामने रखी।

आॅब्जर्वर ने जनता जनता को बताया कि इस बार विधानसभा चुनाव में दिव्यांग जन हेतु व्हील चेयर की तथा 100 वर्ष एवं इस से अधिक आयु वर्ग के मतदाओं हेतु डोली की व्यवस्था की गयी है तथा सभी मतदान केन्द्रों पर पानी, बिजली, शौचालय आदि सहित अन्य आवश्यक सुविधाएं भी मुहेया करायी जा रही हैं। उन्होंने जनता को जागरूक करते हुए कहा कि मतदान का अधिकार जनता को बहुत बड़े स्तर पर संर्घष करने के बाद प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि मतदान न करना एवं चुनाव बहिष्कार करना किसी भी समस्या का हल नहीं है।

उन्होंने कहा कि आपकों अधिक से अधिक मतदान करना चाहिए ताकि नेताओं में आपके मत का भय बना रहे तथा वे आपकी बात को विधान सभा एवं अन्य आवश्यक जगहों पर सही ढंग से रख सकें। उन्होंने कहा कि हर नेता वोट की कीमत को भली भाॅंति जानता व समझता है, इसलिए भी आपकों अपनी बात एवं योजनाएं स्वीकृत करवाने के लिए अधिक से अधिक मतदान करना चाहिए। उन्होंने जनता से यह भी कहा कि हमें अपने मत का उपयोग किसी भी व्यक्ति के भय, लालच, एवं प्रलोभन जाति, क्षेत्र, लिंग आदि में भेदभाव न करते हुए वोट देना चाहिए ताकि जीतने के बाद नेता आपकी बातों एवं मांगों को प्रभावी ढंग से सुन सके।

इस अवसर रिटर्निंग आपॅफीसर लोहाघाट, सीमा विश्वकर्मा, स्वीप के नोडल प्रभारी जीवन कालोनी, स्वीप इवेन्ट के प्रभारी महेन्द्र कुमार गर्ग आदि वक्ताओं ने भी अपने अपने विचार रखे। कुमाउ सुर सागर कला केन्द्र द्वारा भी नाटक मंचन के माध्यम से मतदाता जागरूकता हेतु मंचन किया गया।बैठक संचालन नोडल आफीसर प्रेक्षक राजेश मेहता द्वारा किया गया। इसके पश्चात आॅब्जर्वर ने तहसील कार्यालय लोहाघाट, नगर पंचायत में निर्वाचन सम्बन्धी विभिन्न तैयारियों का जायजा लिया। इस अवसर पर राजस्व निरीक्षक कल्याण सिंह धोनी, प्रभारी कोतवाल जनार्दन भट्ट, बीएलओ खतेड़ा प्रदीप चन्द्र जोशी, बसन्ती देवी, चंचल देवी, दीवान सिंह, पंकज अधिकारी सहित क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी।