जहाँ  स्वच्छता है वहाँ  ईश्वर का वास है – मुख्यमंत्री चौहान

इस ख़बर को शेयर करें:

रायसेन @ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज रायसेन जिले के ग्राम रतनपुर में स्वच्छता ही सेवा अभियान के अन्तर्गत प्रदेश भर में चलाये जा रहे शौचालय हेतु गड्डा खोदने के अभियान में शामिल हुए। उन्होंने सांची रायसेन मार्ग पर स्थित ग्राम रतनपुर में ट्विन-पिट खोदने की शुरूआत की।अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि गांव स्वच्छ रहें इसके लिये अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के दौरान पूरे प्रदेश में आज ही दो लाख गड्डे खोदने का लक्ष्य है।

रायसेन जिले को इसलिये चुना गया है कि यहॉ अभी करीब सत्ताईस हजार परिवार ऐसे है, जिनके घर में शौचालय नही है। मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि आगामी उन्नीस नवम्बर तक पूरे रायसेन जिले को ओडीएफ घोषित कर दिया जायेगा।मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस के अवसर पर स्वच्छता को प्राथमिकता देने वाले कार्य शुरू किये जा रहे है। प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा शुरू किया गया स्वच्छता अभियान अब सीधे आम जन से जुड़ा अभियान बन गया है। मध्यप्रदेश की जनता भी अभियान में बढ चढकर भाग ले रही है। प्रदेश में जिन क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान के अपेक्षित परिणाम नही मिले हैं, उनमें अभियान के अन्तर्गत आगामी 2 अक्टूबर गांधी जयंती तक विशेष प्रयास किये जायेंगे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा खुले मे शौच जाना बीमारियों को बढावा देना है। जहॉ स्वच्छता है, वहॉ स्वास्थ है, वही ईश्वर का वास है। उन्होंने प्रदेश के सभी ऐसे परिवार जिनके घर पर शौचालय नही है, शौचालय बनवाने की अपील करते हुए कहा कि प्रदेशवासी संकल्प ले कि कोई भी व्यक्ति खुले में शौच नही जायेगा। मुख्यमंत्री चौहान ने हरी झण्डी दिखाकर स्वच्छता रथ रवाना किया। इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा ने कहा कि हम सभी को मिलकर प्रदेश को ओडीएफ करने का प्रयास करना होगा। कार्यक्रम में सांची जनपद अध्यक्ष एस मुनियन, नगर पालिका अध्यक्ष जमना सेन, भाजपा जिला अध्यक्ष धर्मेन्द्र चौहान, भाजपा महामंत्री राकेश तोमर, अपर मुख्य सचिव आरआर जुलानिया, संभागायुक्त अजातशत्रु श्रीवास्तव, कलेक्टर भावना वालिम्बे, जिला पंचायत सीईओ अमनवीर सिंह बैंस सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।