घर में झाड़ू को उल्टा रखना क्यों होता है अशुभ
इस ख़बर को शेयर करें

अक्सर बढ़े-बुजुर्ग घर में मौजूद चीजों को लेकर ज्ञान की बातें बताते रहते हैं। जिनका अच्छा और बुरा दोनों महत्व होता है। झाडू भी इन्हीं में से एक हैं जिसे लगाने और रखने के दौरान कई बातों ध्यान रखना जरूरी होता है। ऐसा कहा जाता है झाड़ू को उल्‍टा रखना बुरा होता है जबकि झाड़ू पर पैर मारने से मां लक्ष्‍मी नाराज हो जाती हैं। वास्‍तुशास्त्र में भी झाड़ू को काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। तो आइए जानते हैं इसे लगाने और रखने के कुछ नियम…

  • पौराणिक ग्रंथों की मानें तो अंधेरा होने के बाद घर में कभी झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। इसे अशुभ माना जाता है।
  •  जब कभी भी घर का सदस्य घर से बाहर जाए तो भी तुरंत झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। इसे अशुभ माना जाता है। जब किसी के बाहर जाने के बाद झाडू लगाना जरूरी हो तो भी कम से कम 1 से 2 घंटे का इंतजार करना चाहिए।
  • कभी भी झाड़ू पर न तो पैर रखना चाहिए और न ही झाड़ू पर पैर मारना चाहिए। ऐसा करने पर लक्ष्‍मी मां नाराज हो जाती है। जिस घर में झाडू का आदर किया जाता है उस घर में मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।
  • घर में कभी भी झाड़ू को उल्टा नहीं रखना चाहिए। ऐसा माना जाता है इससे घर में कलह बढ़ती है।
  • इस बात का ध्यान रखें की झाडू कभी घर से बाहर या छत पर नहीं रखी हो। इससे घर में चोरी होने का खतरा बना रहता है।
  • झाडू को रखने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करना चाहिए जहां से झाडू घर या बाहर के किसी भी सदस्य की नजर में न आए।
  • जब कभी भी घर का कोर् छोटा बच्चा अचानक झाड़ू लगाने लगे तो इसका अर्थ होता है कि घर में कोई अनचाहा मेहमान आ सकता है।
  • नया घर बनाने के बाद उसमें पुराना झाड़ू ले जाना अपशकुन माना जाता है।
  • सपने में अगर कोई नई झाड़ू लेकर खड़ा दिखे तो यह सौभाग्य का प्रतीक होता है।