आर्थिक तंगी के चलते महिला ने लगाई फांसी

जबलपुर@ माढ़ोताल पुलिस ने बताया कि दीनदयाल चौक सार्इं कॉलोनी निवासी फल व्यवसायी राजेश केशरवानी की पत्नी सावित्री बाई ने बीती रात अपने पति सहित 12 वर्षीय बेटे रंजीत और 6 वर्षीय बेटी शिवानी को खाना खिलाया था। सभी को सुलाने के बाद रात करीब 1 बजे सावित्री ने बाहर वाले कमरे में साड़ी का फंदा बनाकर लोहे की सरिया से लटककर फांसी लगा ली। तभी उसका बेटा रंजीत बाथरूम जाने उठा और उसकी नजर फांसी पर लटकी अपनी मां पर पड़ी, तो उसने जोर-जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। जिसके बाद राजेश आनन-फानन में अपनी पत्नी को फंदे से उतारकर निजी अस्पताल पहुंचा, जहां चिकित्सकों ने परीक्षण के उपरांत उसे मृत घोषित कर दिया।

घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजने के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है। मृतका के पति राजेश ने बताया कि कुछ दिनों से उसका फल का व्यवसाय ठीक नहीं चल रहा था और मकान मालिक ने भी मकान खाली करने कह दिया था। इस बात को लेकर सावित्री तनाव में रहती थी और संभवत: उसने इसी वजह से आत्महत्या कर ली।