महिला कैदियों को दिया जायेगा रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण

इस ख़बर को शेयर करें:

भोपाल : महिला-बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने मुख्यमंत्री महिला सशक्तिकरण योजना में महिला कैदियों को रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण देकर आर्थिक रूप से सशक्त बनाये जाने की पहल की है। इस प्रशिक्षण के लिये प्रथम चरण में छिंदवाड़ा जेल की 11 महिला कैदियों का चयन किया गया है।

इन्हें औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान छिंदवाड़ा में 50 दिवसीय फैशन डिजाइनिंग, वस्त्र निर्माण एवं सिलाई-कढ़ाई का प्र‍शिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षण के दौरान महिला कैदियों को 500 रूपये प्रतिमाह शिष्यवृद्धि भी प्रदान की जायेगी। प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य इन महिलाओं में आत्म-विश्वास को बढ़ाना और उन्हे आत्म-निर्भर बनाकर समाज में पुनर्स्थापित करना है।

महिला सशक्तिकरण योजना का लक्ष्य समूह बलात्कार और दुर्व्यवहार से बचाई गई महिलाओं/बालिकाओं, एसिड अटैक विक्टिम, दहेज प्रताड़ित, अग्नि पीड़ित, बाल-विवाह पीड़ित, जेल से रिहा, परित्यक्ता, तलाकशुदा और अन्य विपत्तिग्रस्त बालिकाओं/महिलाओं को आपात स्थिति में सहायता पहुँचाना है।

महिला सशक्तिकरण योजना में पात्र हितग्राहियों को फार्मेसी, नर्सिंग, फिजियोथेरेपी, ब्यूटीशियन कोर्स, शार्ट-टर्म मैनेजमेंट कोर्स, आई.टी.आई/ पॉलिटेक्निक, कम्प्यूटर ऑपरेटर प्रोग्रामिंग एण्ड असिस्टेंट, इवेंट मैनेजमेंट, हॉस्पिटेलिटी, होटल मैनेजमेंट जैसे प्रशिक्षण दिये जाते हैं।