राष्ट्रीय शिक्षुता प्रोत्साहन योजना को बढ़ावा

भोपाल@ अप्रेन्टिसशिप योजना में राष्ट्रीय शिक्षुता प्रोत्साहन योजना को बढ़ावा देने के लिये गोविंदपुरा औद्योगिक संघ के सभागार में आज कार्यशाला आयोजित की गयी। योजना के अंतर्गत 50 लाख प्रशिक्षुओं को वर्ष 2019-20 तक प्रशिक्षित करने का लक्ष्य भारत सरकार ने निर्धारित किया है। इसमें आईटीआई पास एवं हाई स्कूल पास प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षु रखकर सीधे उद्योगों से जोड़ा जायेगा। उद्योग द्वारा प्रशिक्षु रखे जाने पर प्रतिपूर्ति 1500 रुपये प्रति माह प्रति प्रशिक्षु प्रति प्रतिष्ठान को भारत सरकार द्वारा दिया जायेगा।

जिला कलेक्टर डॉ. सुदाम खाडे़ ने भोपाल के उद्यमियों को योजना के नियोक्ताओं के लिये वित्तीय प्रोत्साहन प्रदान करने के लिये अधिसूचित किया। उन्होंने सभी उद्यमियों को अपने प्रतिष्ठानों में प्रशिक्षु रखने के लिये निर्देशित किया। कार्यशाला में गोविंदपुरा औद्योगिक संघ के अध्यक्ष सुनील कुमार पाली, शासकीय आदर्श औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था गोविंदपुरा भोपाल के प्राचार्य आर.के. ऑस्टिन, कौशल विकास क्षेत्रीय कार्यालय भोपाल और महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के अधिकारी मौजूद थे।