विश्व कप 2019: पाकिस्तान पर वेस्टइंडीज की बड़ी जीत

61

ओशेन थामस की अगुवाई में तेज गेंदबाजों के शार्ट पिच गेंदों के कमाल और सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल के तूफानी अर्धशतक की मदद से वेस्टइंडीज ने शुक्रवार को यहां पाकिस्तान को 218 गेंद शेष रहते हुए सात विकेट से करारी शिकस्त देकर विश्व कप 2019 में अपने अभियान का शानदार आगाज किया।

पाकिस्तान को पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित करने के बाद वेस्टइंडीज ने शार्ट पिच गेंदों से कहर बरपाया और उसकी पूरी टीम को केवल 21.4 ओवर में 105 रन पर ढेर कर दिया। वेस्टइंडीज ने 13.4 ओवर में तीन विकेट पर 108 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। गेल ने 34 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से 50 रन बनाये जबकि निकोलस पूरण 19 गेंदों पर 34 रन बनाकर नाबाद रहे।

पाकिस्तान की यह पूरे खेले गये वनडे मैचों में लगातार 11वीं हार है जो उसका अब तक का सबसे बुरा प्रदर्शन है। इस पूरे मैच में केवल 212 गेंदें फेंकी गयी।

लेकिन वह तेज गेंदबाज थे जिन्होंने वेस्टइंडीज की बड़ी जीत की नींव रखी। पाकिस्तान के केवल चार बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे। उसके आखिरी छह बल्लेबाज 5.3 ओवर के अंदर पवेलियन लौटे। पाकिस्तान का यह विश्व कप में दूसरा न्यूनतम स्कोर है। इससे पहले 1992 में इंग्लैंड के खिलाफ एडिलेड में उसकी टीम 74 रन पर आउट हो गयी थी।

वेस्टइंडीज की तरफ से सभी विकेट तेज गेंदबाजों ने लिये। थामस ने 27 रन देकर चार और कप्तान जैसन होल्डर ने 42 रन देकर तीन विकेट लिये लेकिन वह आलराउंडर आंद्रे रसेल थे जिन्होंने तीन ओवर में चार रन देकर दो विकेट हासिल कर पाकिस्तान का शीर्ष क्रम झकझोरा। शेल्डन कोटरेल ने 18 रन के एवज में एक विकेट हासिल किया। विकेटकीपर शाई होप ने चार कैच लिये।

बेहतरीन फार्म में चल रहे होप हालांकि अच्छी लय में दिखने के बावजूद केवल 11 रन बनाकर मोहम्मद आमिर (26 रन देकर तीन) की गेंद पर मिड आफ पर कैच दे बैठे। स्पॉट फिक्सिंग के लिये पांच साल का प्रतिबंध लगने कारण पिछले दो विश्व कप में नहीं खेल पाने वाले आमिर ने इसके बाद डेरेन ब्रावो (शून्य) को भी पवेलियन भेजा लेकिन गेल ने अपने सदाबहार अंदाज में बल्लेबाजी की।

गेल ने शुरू में हसन अली को निशाने पर रखा। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने उनके पहले ओवर में लगातार दो चौके लगाये और फिर इसी गेंदबाज के अगले ओवर में दो गगनदायी छक्के जड़े। हसन की जगह गेंद संभालने वाले वहाब रियाज पर उन्होंने दो चौके और एक छक्का जमाया। गेल ने आमिर की गेंद पर हवा में कैच लहराने से पहले अपना 52वां वनडे अर्धशतक पूरा किया।

इसके बाद पूरण ने बखूबी जिम्मा संभाला तथा रियाज पर दो छक्के लगाये। इनमें मिडविकेट पर लगाया गया विजयी छक्का भी शामिल है। पूरण ने इसके अलावा चार चौके भी लगाये। शिमरोन हेटमेयर सात रन बनाकर नाबाद रहे।

इससे पहले पाकिस्तान की तरफ से फखर जमां और बाबर आजम दोनों ने 22 – 22 रन बनाये। उनके अलावा रियाज (18) और मोहम्मद हफीज (16) ही दोहरे अंक में पहुंचे।

ऐसा नहीं था कि ट्रेंटब्रिज की पिच में कुछ गड़बड़ी थी। इंग्लैंड ने पिछले साल आस्ट्रेलिया के खिलाफ इसी मैदान पर छह विकेट पर 481 रन बनाये थे और हाल में पाकिस्तान ने भी यहां एक मैच में सात विकेट पर 340 रन बनाये थे लेकिन आज वह बमुश्किल तिहरे अंक में पहुंच पाया।

अगर दसवें नंबर के बल्लेबाज रियाज ने होल्डर के एक ओवर में दो छक्कों और एक चौके की मदद से 17 रन नहीं बटोरे होते तो पाकिस्तान तिहरे अंक में भी नहीं पहुंच पाता।

कैरेबियाई तेज गेंदबाजों ने शुरू से आक्रामक रवैया अपनाया तथा शार्ट पिच गेंदों से पाकिस्तानी बल्लेबाजों को परेशानी में डाला जिनका शॉट का चयन बेहद खराब था। एक समय पाकिस्तान का स्कोर चार विकेट पर 75 रन था लेकिन इसके बाद उसकी पारी ताश के पत्तों की तरह बिखर गयी।

कोटरेल ने पाकिस्तानी पारी के पतन की कहानी लिखी। उनकी शार्ट पिच गेंद को हुक करने के प्रयास में इमाम उल हक (दो) ने होप को कैच थमाया। विश्व कप 2015 के बाद अपना केवल तीसरा वनडे खेल रहे रसेल पहले बदलाव के रूप में आये। उनकी पांचवीं गेंद शार्ट पिच थी जिसे फखर ने अपने विकेटों पर खेला। उन्होंने इसी तरह की गेंद पर हारिस सोहेल (आठ) को विकेट के पीछे कैच कराया।

बाबर जब 12 रन पर थे तब हेटमेयर ने उनका कैच छोड़ा लेकिन वह इसमें केवल दस रन और जोड़ पाये। थामस की गेंद पर होप ने उनका दर्शनीय कैच लिया। वेस्टइंडीज के गेंदबाजों ने इसके बाद पुछल्ले बल्लेबाजों को समेटने में देर नहीं लगायी। होल्डर ने नौ गेंद के अंदर सरफराज अहमद, इमाद वसीम और हसन अली को आउट किया।