विश्व में बज रहा है योग का डंका – मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र

इस ख़बर को शेयर करें:

दतिया @ मध्यप्रदेश शासन के जल संसाधन, जनसम्पर्क एवं संसदीय कार्य विभाग मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने सांसद निधि से स्वीकृत आठ लाख रूपये लागत के सामुदायिक योग भवन का शिलान्यास किया। तरन तारन मार्ग सिजरिया की बगिया के पास समारोह पूर्वक आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता क्षेत्रीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने की। विधिवत भूमिपूजन कर शिलापट्टिका का अनावरण किया गया। इस दौरान मोतीदेवा शिक्षा प्रसार समिति के अध्यक्ष एडवोकेट अशोक सिजरिया ने अतिथियों का पुष्पहारों से स्वागत किया गया। इस अवसर कवि सम्मेलन का आयोजन भी रखा गया। इस अवसर पर स्थानीय कवियों एवं समाजसेवियों का शॉल, श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस दौरान वरिष्ठ समाजसेवी गुरूदेवशरण गुप्ता, भाजपा जिलाध्यक्ष विक्रम सिंह बुन्देला, विपिन गोस्वामी, दयाल सिंह गुर्जर, दिलीप सिंह यादव आदि उपस्थित रहे।

जनसम्पर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने अपने उद्बोधन में कहा कि भारत की प्राचीन योग विद्या को पूरे विश्व में मान्यता मिली है। दतिया के नागरिक बिना दवा के स्वस्थ्य और निरोग रहे इसके लिए योग भवन की नीव रखी गई है। सामुदायिक योग भवन बन जाने से स्थानीय नागरिकों को योग के लिए सुविधा उपलब्ध होगी।

क्षेत्रीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने अपने उद्बोधन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा पूरे विश्व में योग को स्थापित किया है। उनके ही प्रयासों से विश्व के अनेक देशों में 21 जून को योग दिवस मनाया जाता है। आज योग तन, मन को स्वास्थ्य रखने के लिए आवश्यक क्रिया के रूप में अपनाया जा रहा है। स्वस्थ्य शरीर में ही स्वस्थ्य मन का वास होता है उन्होंने युवाओं से अपील की कि वह योग की तरह उन्मुख हो।

कार्यक्रम के दौरान स्थानीय कवियों एवं समाजसेवियों का अतिथियों द्वारा सम्मान किया गया। कार्यक्रम के अंत में कवि सम्मेलन में विभिन्न कवियों ने अपनी रचनाऐ पड़ी जिन्हें दर्शकों ने खूब सराहा। सियाशरण भट्ट की अध्यक्षता में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया।

जिन्हें सम्मानित किया गया उनमें रामभरोसे मिश्रा, अलताफ हुसैन, लक्ष्मीनारायण झा, डॉ. राज गोस्वामी, विनोद मिश्रा, प्रमोद अश्क, संजय रावत, डॉ. आलोक सोनी, दिलशेर दिल, डॉ. नौशाद, शैलेन्द्र खरे, अरविन्द मिश्रा, रविभूषण खरे, सुंदरलाल श्रीवास्तव, रविन्द्र सिंह परमार, महेश लाक्षाकार, साबिर खॉन, अश्क झांसी, इसके अलावा समाजसेवियों में डॉ. ओपी दुबे, घनश्यामदास सोनी, संजय सिसौदिया, राजेन्द्र त्रिपाठी, एलएन कुशवाहा आदि के नाम शामिल है। कार्यक्रम के अंत में महेश यादव लेतरा द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया।