प्रयागराज: माघ मेला क्षेत्र में जमीन आवंटन को लेकर सन्तों पर युवक ने चढ़ाई बाइक

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:

प्रयागराज. गंगा यमुना एवं अदृश्य सरस्वती के संगम तट पर माघ मास में शुरू होने जा रहे माघ मेले में भूमि आवंटन को लेकर रविवार को संतो के दो पक्षों में विवाद हो गया. बताया गया कि मेला प्रशासन की ओर से मेला क्षेत्र में भूमि का आवंटन चल रहा था.

दोपहर में आचार्य बाड़ा में जमीन के आवंटन के दौरान झड़प हो गई. वहां मौजूद लोगों ने बीच-बचाव किया, लेकिन इस दौरान गाली-गलौज और हाथापाई हो गई, जिससे वहां अफरा-तफरी का माहौल बन गया था.

माघ मेला क्षेत्र के सेक्टर पांच में रविवार दोपहर को अच्युत प्रपन्नाचार्य अपनी जमीन पर बांस का बाड़ा लगवा रहे थे. उसी दौरान विष्णु प्रपन्नाचार्य के बेटे आए और जमीन का घेरा बनवा रहे संतों पर बाइक चढ़ा दी, इससे वहां अफरा-तफरी मच गई.

मौके पर दोनों पक्षों के लोग मौजूद थे. दोनों एक-दूसरे पर लाठी लेकर दौड़ पड़े. मौके पर मौजूद लोगों ने एक दूसरे को किसी प्रकार शांत कराया. पता चलने पर थोड़ी ही देर में दोनों तरफ के कुछ और संत भी वहां पहुंच गए.

मेलाधिकारी ने किया हस्तक्षेप

माघ मेला क्षेत्र में आचार बाड़ा में संतों के बीच हुए विवाद के बाद मौके पर मेला अधिकारी विवेक चतुर्वेदी भी पहुंच गए. वहां पहुंची पुलिस ने संतों पर बाइक चढ़ाने वाले युवक को थाने उठा ले गई. मेला अधिकारी ने विवाद सुलझाने के लिए दोनों पक्षों के संतों को अपने कार्यालय में बुलाया.

अपनी भूमि का दावा बना विवाद की वजह

अच्युत प्रपन्नाचार्य ने बताया की उनकी जमीन 450 फीट लंबी है, उसी का वह घेरा करवा रहे हैं. वहीं दूसरे पक्ष के संतों ने कहा कि यहां उनकी जमीन है. इस बार मेला प्रशासन ने आचार्य बाड़ा की पूरी जमीन श्री रामानुज प्रबंध समिति को दी थी. समिति के कोषाध्यक्ष घनश्यामाचार्य ने जमीन बांटी थी. संतों ने जमीन आवंटन में हेराफेरी का आरोप लगाकर असन्तोष जाहिर किया है.