फेसबुक डाटा लीक रोकने को जुकरबर्ग ने उठाया बड़ा कदम

इस ख़बर को शेयर करें:

डाटा लीक मामले में घिरी सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने अपने मैनेजमेंट में फेरबदल की पुष्टि की है. कंपनी के को-फाउंडर मार्क जुकरबर्ग फेसबुक के प्रमुख बने रहेंगे. साथ ही नंबर दो की भूमिका में मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) शेरिल सैंडबर्ग रहेंगी. लंबे समय से जुकरबर्ग की टीम का हिस्सा रहे क्रिस कॉक्स को फेसबुक के कोर एप्लीकेशंस के साथ-साथ स्मार्टफोन सेवाओं इंस्टाग्राम, व्हॉट्सएप और मैसेंजर की जिम्मेदारी दी गई है. कंपनी ने इसकी पुष्टि की है.

फेसबुक के प्रमुख अधिकारियों के कामों में फेरबदल की जानकारी सबसे पहले प्रौद्योगिकी समाचार वेबसाइट रीकोड ने दी. फेसबुक ने अपनी उत्पादन और इंजीनियरिंग टीम को तीन इकाइयों में परिवर्तित किया है. इसमें उभरती हुई प्रौद्योगिकी से जुड़ा विभाग भी शामिल है, जो कि क्रिप्टोकरेंसी के लिए इस्तेमाल होने वाली ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी पर ध्यान केंद्रित करेगा.

चार साल तक फेसबुक मैजेंसर की जिम्मेदारी संभालने वाले डेविड मर्कस ने अपने पोस्ट में कहा कि वह ‘फेसबुक में ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने के तरीके तलाशने के लिए एक छोटा समूह गठित कर रहे हैं.’ अमेरिकी मीडिया में आई खबरों के अनुसार, एक दर्जन से अधिक अधिकारियों के कामों में बदलाव किया गया है.